Adsense Ads Limit Solve Kaise Kare

Adsense Ads Limit Solve Kaise Kare

Adsense Ads Limit Solve Kaise Kare – इस समय ऐडसेंस एड्स लिमिट की प्रॉब्लम को हर एक ब्लॉगर फेस कर रहा है। अगर आपके ऐडसेंस अकाउंट में ऐडसेंस एड्स लिमिट लग चुकी है और आपको इसका कोई सलूशन नहीं मिल रहा है तो आपको परेशान होने की कोई आवश्यकता नहीं है। क्योंकि आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से Adsense Ads Limit Solve Kaise Kare के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहे हैं। Bad Backlink क्या है ?

आज के टाइम में अधिकतर ब्लॉगर अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर गूगल ऐडसेंस एड्स लिमिट की समस्या को फेस कर रहे हैं। दोस्तों आपकी जानकारी के लिए बताना चाहता हूं कि अगर आप थोड़ी सी भी सावधानी रखते हैं तो आप गूगल ऐडसेंस एड्स लिमिट की प्रॉब्लम से बच सकते हैं। इसलिए आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से ऐसे पांच बेहतरीन तरीके के बारे में बताऊंगा जिनको आप फॉलो करके अपने गूगल ऐडसेंस अकाउंट से गूगल ऐडसेंस एड्स लिमिट की प्रॉब्लम को सॉल्व कर सकते हैं।

गूगल ऐडसेंस एड्स लिमिट सॉल्व कैसे करें फॉलो करें यह 5 अमेजिंग तरीके ( Adsense Ads Limit Solve Kaise Kare )

1 – Remove All Ads

दोस्तों अगर आपके ऐडसेंस अकाउंट में एड्स लिमिट लग चुका है तो सबसे पहले आपको अपने ब्लॉग या वेबसाइट से सारे गूगल ऐडसेंस अकाउंट के Ads Unit को हटा लेना है। इसके अलावा अगर आप ने अपनी वेबसाइट पर Auto Ads रन कर रखें तो आप उसको भी हटा लीजिए। यहां पर आपको ध्यान देना है कि आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर गूगल ऐडसेंस अकाउंट का कोई भी Ads Unit नहीं होना चाहिए।

2 – Stop Your Self

दोस्तों ऐसे बहुत सारे लोग होते हैं जो अपने ब्लॉग या वेबसाइट को बार-बार विजिट करते रहते हैं। शायद यह बहुत ही कम लोगों को मालूम है कि आपके गूगल ऐडसेंस अकाउंट में एड्स लिमिट लगने का यह भी एक बहुत बड़ा कारण है। क्योंकि जब आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर कोई न्यू आर्टिकल पब्लिश्ड करते हैं तो आप उसको बार-बार चेक करते हैं।

जब आप अपनी वेबसाइट के आर्टिकल को बार-बार चेक करते हैं तो गूगल को यह लगता है कि आप अपनी वेबसाइट को बार-बार जानबूझकर विजिट कर रहे हैं। और गूगल इस चीज को इनवेलिड ट्रैफिक समझता है। यही कारण है कि गूगल आपके अकाउंट में इनवेलिड ट्रेफिक समझकर आपके अकाउंट पर गूगल एड्स लिमिट लगा देता है।

3 – Stop Traffic From Social Media

यहां पर ऐसे बहुत सारे ब्लॉगर हैं जो अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर ट्रैफिक लाने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का सहारा लेते हैं। यहां पर आपकी जानकारी के लिए बताना चाहता हूं कि बहुत सारे ब्लॉगर भाई यूट्यूब व्हाट्सएप ग्रुप इंस्टाग्राम ग्रुप फेसबुक ग्रुप और टेलीग्राम ग्रुप ज्वाइन करते हैं। और वह इन सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से अपनी ब्लॉग या वेबसाइट पर अनलिमिटेड ट्रैफिक लाते हैं।

आपको बताना चाहता हूं कि अब गूगल ऐडसेंस सोशल मीडिया ट्रैफिक को इनवेलिड ट्रैफिक मानता है। अगर आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से थोड़ा बहुत ट्रैफिक आता है तो इससे आपके अकाउंट पर कोई फर्क नहीं पड़ता है। अगर वहीं ट्रैफिक बहुत अधिक हो जाता है तो इस वजह से आपके ऐडसेंस अकाउंट पर एड्स लिमिट लगा देता है।

अगर आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर सोशल मीडिया वेबसाइट से ट्रैफिक आता है तो आप इसे तुरंत बंद कर दें। अगर आप ऐसा करते हैं तो कुछ समय बाद आप देखेंगे कि आपके गूगल ऐडसेंस अकाउंट में से एड्स लिमिट हट चुकी होती है।

4 – Stop Shortlink Traffic

बहुत सारे लोग अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर शॉर्ट लिंक वेबसाइट के माध्यम से ट्रैफिक लाते हैं। क्योंकि ऐसे बहुत सारे ब्लॉगर होते हैं जो अपनी वेबसाइट के यूआरएल को Short कर अलग-अलग वेबसाइट पर शेयर करके ट्रैफिक लाते हैं। अगर आप ऐसा करते हैं  तो यह भी एक कारण हो सकता है कि आपके अकाउंट पर एड्स लिमिट लगने का, क्योंकि आपकी वेबसाइट पर जो ट्रैफिक सूट दिखाता है वह एक Specific Site  के माध्यम से दिखाता है। इसलिए आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर शॉर्ट लिंक के माध्यम से ट्रैफिक लाना तुरंत बंद कर दीजिए।

5 – Focus On Organic Traffic

दोस्तों अगर आप अपने ऐडसेंस अकाउंट में ऐड लिमिट की प्रॉब्लम से बचना चाहते हैं तो आप आज से ही अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर ऑर्गेनिक ट्रैफिक पर फोकस कीजिए। यकीन मानिए दोस्त अगर आप की वेबसाइट पर ऑर्गेनिक ट्रैफिक आता है तो आपके वेबसाइट पर कभी भी ऐड लिमिट की प्रॉब्लम नहीं आएगी। इसलिए आपको पूरी तरह से अपनी वेबसाइट के  सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन पर काम करें। जिससे कि आप की वेबसाइट पर अधिक से अधिक ऑर्गेनिक ट्रैफिक आ सके।

निष्कर्ष

दोस्तों हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से Adsense Ads Limit Solve Kaise Kare  के बारे में जानकारी दी है। अगर आपके गूगल ऐडसेंस अकाउंट में एड्स लिमिट की प्रॉब्लम लग चुकी है तो आप हमारे द्वारा बताए गए तरीकों को फॉलो करके अपने ऐडसेंस अकाउंट से एड्स लिमिट की प्रॉब्लम को सॉल्व कर सकते हैं।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*