सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर महिलाओं को कौन-कौन सी सावधानियां बरतनी चाहिए ?

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर महिलाओं को कौन-कौन सी सावधानियां बरतनी चाहिए

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर महिलाओं को कौन-कौन सी सावधानियां बरतनी चाहिए ? – तकनीकी के इस युग में लगभग सभी लोग सोशल मीडिया का यूज़ जरूर करते हैं। आजकल जितना पुरुष सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हैं उतनी ही महिलाएं भी सोशल मीडिया पर एक्टिव रहती हैं। व्हाट्सएप, फेसबुक, टि्वटर, इंस्टाग्राम और स्नैपचैट इत्यादि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स का महिलाएं अधिक संख्या में प्रयोग करती हैं। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर महिलाओं को सबसे अधिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। जो भी महिलाएं सोशल मीडिया पर सक्रिय हैं उन्हें कई सावधानियां बरतनी पड़ती हैं।

आजकल कई ऐसे लोग हैं जो महिलाओं के प्रोफाइल का गलत इस्तेमाल करते हैं और उनके नाम का फेक अकाउंट बनाते हैं। यदि कोई महिला सोशल मीडिया पर अपना फोटो अपलोड करती है तो कई लोग उस पर अभद्र टिप्पणी करते हैं या फिर उस फोटो का कहीं दूसरे फेक अकाउंट पर यूज करते हैं।

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर महिलाओं को कौन-कौन सी सावधानियां बरतनी चाहिए ?

 महिलाओं को लेकर यह सबसे बड़ी समस्या है कि कुछ लोग उन्हें मैसेज करके परेशान भी करते हैं। जो सोशल मीडिया के सभी फीचर्स और सेटिंग्स से वाकिफ हैं वे कई ऐसी प्राइवेसी लगा लेती हैं जिससे कोई अनजान व्यक्ति उन्हें परेशान नहीं कर पाता है लेकिन जो महिलाएँ सोशल मीडिया के सभी फीचर्स और सेटिंग्स से अच्छी तरह से वाकिफ नहीं है उन्हें काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

सिर्फ महिलाएं ही नहीं बल्कि सभी यूजर्स को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कुछ प्राइवेसी और सिक्योरिटी फीचर्स को फॉलो जरूर करना चाहिए ताकि उनकी प्राइवेसी सुरक्षित रह सके। इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि यदि आप कोई सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का यूज कर रहे हैं तो किन-किन सिक्योरिटी फीचर्स को अपने अकाउंट में लगाना चाहिए।

Two Factor Authentication

यदि आप इंस्टाग्राम टि्वटर या फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक्टिव हैं तो अपने अकाउंट में Two Factor Authentication फीचर को जरूर अनेबल करें। इससे आपके प्रोफाइल को कोई दूसरा व्यक्ति आसानी से नहीं खोल सकता है। इस फीचर को अनेबल करने के लिए आप अपने मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी का इस्तेमाल कर सकते हैं। इस सेटिंग को अनेबल करने के बाद जब कोई भी व्यक्ति या स्वयं आप अपने सोशल मीडिया अकाउंट में लॉगिन करेंगे तो आपके मोबाइल या ईमेल आईडी पर एक लॉगिन कोड आएगा, जिसे अपने अकॉउंट में दर्ज करने पर ही आपका अकाउंट लॉगिन हो सकेगा।

Third Party Apps को एक्सेस देने से बचें

आजकल कई ऐसे एप्लीकेशन लांच हो चुके हैं जो आपसे आपके सोशल मीडिया अकाउंट का एक्सेस मांगते हैं। ऐसे थर्ड पार्टी एप्लीकेशन को अपने सोशल मीडिया का अकाउंट का एक्सेस देने से बचें। क्योंकि ऐसे कई सारे एप्लीकेशन हैं जो आपके सोशल मीडिया अकाउंट से आपकी जानकारी को ले लेते हैं और उसका गलत यूज भी कर सकते हैं। यदि आप अभी तक थर्ड पार्टी ऐप्स को एक्सेस दे चुके हैं तो फेसबुक की सेटिंग में जाकर Apps And Websites ऑप्शन में क्लिक करके सभी एप्लीकेशन और वेबसाइट को रिमूव कर दें।

प्रोफाइल पर प्राइवेसी लगाएँ

किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपने बारे में निजी जानकारी जैसे मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, पता इत्यादि को छुपा कर रखना चाहिए। ऐसा करने से कोई भी व्यक्ति आपका मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी या अन्य निजी जानकारी का पता नहीं लगा सकता है। महिलाओं के सोशल मीडिया अकाउंट पर यदि फोन नंबर दिखाई देता है तो कई गलत मानसिकता के लोग उन्हें फोन या मैसेज करके परेशान करने लगते हैं। इसके अलावा यदि ईमेल आईडी दिखाई देता है तो कई लोग आपके अकाउंट को हैक करने की कोशिश भी करते हैं।

ग्रुप प्राइवेसी लगाएँ

आपने देखा होगा कि व्हाट्सएप या फेसबुक पर कई ऐसे ग्रुप बनाए जाते हैं जिनमें आपको बिना आपकी मर्जी के जोड़ दिया जाता है। इससे आपको काफी परेशानी समझ में आने लगती है। यदि आपको किसी ने अपने ग्रुप में जोड़ दिया है तो उसे तुरंत ही छोड़ दें। यदि आप व्हाट्सएप का प्रयोग कर रहे हैं तो आप व्हाट्सएप की Settings में जाकर Privacy Settings पर क्लिक करें और ग्रुप में जोड़ने के लिए My Contact ऑप्शन को सिलेक्ट कर दें ऐसा करने से केवल आपके जान पहचान के लोग जिनका नंबर आपके फोन में सेव है वही आपको ग्रुप में जोड़ पाएंगे।

फोटो पर प्राइवेसी लगाएँ

आजकल हर किसी को अपना फोटो सोशल मीडिया पर शेयर करना अच्छा लगता है लेकिन आप की एक लापरवाही से उस फोटो का गलत इस्तेमाल भी किया जा सकता है। इसीलिए यदि आप किसी भी सोशल मीडिया पर अपना फोटो अपलोड कर रहे हैं तो उस पोस्ट को फ्रेंड्स को दिखाने के लिए ही ऑप्शन सेलेक्ट करें। अपने किसी भी फोटो को पब्लिक नहीं रखना चाहिए क्योंकि इससे आपकी प्राइवेसी और सुरक्षित हो सकती है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*